वार्तालाप 02

1: Hey! आज इधर कैसे?
2: Hi.. बस ऐसे ही। और..क्या चल रहा है आजकल?
1: अरे बस वही बेरोजगारी। तू बता, सुना है तेरे लिए लड़का खोजा जा रहा है।
2: कहाँ से सुनते रहता है ये सब तू?
1: I have ears at right places.
2: घंटा! घर वाले बड़ा प्रेशर दे रहे थे यार तो सोचा कि जब इनके प्रेशर देने पर इंजीनियरिंग कर ली तो शादी कौन सी बड़ी चीज़ है..so हाँ बोल दिया। मम्मी की groom-hunting चालू है।
1: हाहा! सही है..जब इंजीनियरिंग कर ली तो the worst has already passed. So कैसा लड़का चाहिए तुझे..मैं भी हेल्प कर दूँ तेरा घर बसाने में।
2: मुझे कैसा लड़का चाहिए! Does it even matter? मम्मी पापा ने already requirements की लिस्ट बना रखी है। Apparently माँ बाप बच्चों से इतना प्यार करते है कि उनपे किसी काम का बोझ नहीं डालना चाहते, उनके सपने भी खुद देखते हैं और उनका future भी खुद ही decide करते हैं..हाउ स्वीट ऑफ देम!
1: Easy easy..इतने सालों में तो इसकी आदत पड़ जानी चाहिए थी। वैसे किस बात पर इतनी pissed off है?
2: अरे यार ये society की अजीब priorities है यार। शादी के लिए ज़रूरी criteria में धर्म है, caste है, पैसा है and even उसकी height है but जो चीज़ सबसे ज़रूरी होनी चाहिए वो है ही नहीं!
1: And what’s that?
2: Love और क्या? जिसके साथ पूरी लाइफ एक कमरे में रहना है, सेक्स करना है, बच्चे पैदा करने हैं उसके लिए feelings होना ही important नहीं है। और तो और ये कहते हैं कि “शादी के बाद प्यार हो जाता है”..as if there’s any other choice left..उसको प्यार नहीं मज़बूरी कहते हैं…what are you grinning at?
1: तेरी innocence पर dumbo. तुझे लगता है कि शादी प्यार के लिए की जाती है?
2: तेरा मतलब क्या है?
1: मतलब ये है जूलिएट कि शादी और प्यार का एक दूसरे से कोई लेना देना है ही नहीं।
2: Elaborate
1: See शादी एक social system है और प्यार तो systematic हो ही नहीं सकता। शादी एक बंधन है और प्यार boundless होता है। शादी का सिस्टम प्यार फ़ैलाने के लिए नहीं बल्कि एक society को बनाने के लिए आया। Marriage is the mean to form a basic social unit..which is family.. परिवार में प्यार से ज़्यादा एक bonding होती है।
2: What about love marriage? ये तो प्यार के लिए होती है।
1: Love marriage is one of the biggest farce in our society. .the original form of marriage is arranged..and marriage is a social need not a personal one.
2: How can it not be a personal thing? ये तो दो लोगों के बीच होती है न और love marriage farce कैसे है?
1: शादी दो लोगों के बीच होती ज़रूर है मगर इसमें सिर्फ दो लोगों की ही involvement नहीं होती। और love marriage farce ऐसे है कि अगर आप किसी से प्यार करते हैं तो उस से शादी कर के आप अपने प्यार का इज़हार नहीं बल्कि अपने प्यार के लिए society से approval मांग रहे होते हैं। प्यार को शादी की ज़रूरत ही नहीं होती।
2: अरे यार अब ये सब बता के तू मुझे शादी नहीं करने के लिए convince कर रहा है।
1: हाहा..ऐसा नहीं है। और मैं पागल हूँ जो तुझे शादी करने से discourage करूँगा! तेरी शादी का buffet क्यों जाने दूंगा मैं।
2: You are such a prick!
1: गरियाना बाद में पहले चल पार्टी दे होने वाले शादी की ख़ुशी में।
2: I’m not sure कि ये ख़ुशी की बात है।
1: अबे तो अपने singleपने का श्राद्ध समझ के ही खिला दे, भूख लगी है।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s